Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
spritual

Bhai dooj मे इस तरह से करे पूजा लंबी होगी उम्र !!

आज भाई दूज है. अटूट बंधन वाले इस त्योहार की हिंदू धर्म में बहुत मान्यता है. आज के दिन शुभ मुहूर्त में बहनें अपने प्यारे भाई को तिलक लगाती हैं

PUBLISHED By -LISHA DHIGE

Happy Bhai Dooj 2022 ।। पांच दिनों तक चलने वाला दीपावली पर्व एक महान पर्व माना जाता है। यह पर्व धनतेरस से शुरू होकर भाई दूज पर समाप्त होता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार भैया दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार भैया दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है। इस वर्ष दीपावली के अगले दिन सूर्य ग्रहण के कारण दिवाली के बाद के पर्वों की तिथि बढ़ा दी गई है, जिससे भाई दूज 27 अक्टूबर को मनाया जा रहा है।

The Diwali festival, which lasts for five days, is considered a great festival. This festival starts from Dhanteras and ends on Bhai Dooj. According to the Hindu calendar, Bhaiya Dooj is celebrated on the second day of Shukla Paksha of Kartik month.According to the Hindu calendar, Bhaiya Dooj is celebrated on the second day of Shukla Paksha of Kartik month. This year, due to the solar eclipse on the next day of Deepawali, the date of the festivals after Diwali has been extended, due to which Bhai Dooj is being celebrated on 27 October.

photo-@socialmedia

भाई दूज को भाई-बहन के प्यार और अटूट बंधन का प्रतीक माना जाता है। इस दिन भाई अपनी बहनों के घर तिलक लगाने और भोजन करने जाते हैं। जिसके बाद अपनी प्यारी बहन को उपहार दें। बहनों ने भाई की लंबी उम्र की कामना की। इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग भी बनता है। आप अपने भाइयों और बहनों को विशेष बधाई संदेश भेजकर भी दिन की शुरुआत कर सकते हैं।

Bhai Dooj is considered a symbol of brother-sister love and unbreakable bond. On this day brothers go to their sisters’ house to apply tilak and have food.After which give a gift to your beloved sister. Sisters wished brother long life. Sarvartha Siddhi Yoga is also formed on this day. You can also start the day by sending special congratulatory messages to your brothers and sisters.

bulandmedia

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button