Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
राष्ट्रीय
Trending

आर्गेनिक ग्रोथ के लिए बायजूस ने ट्रांसफॉर्मेटिव सेल्स मॉडल का अनावरण किया

नई दिल्ली । बायजूस के फाउंडर बायजू रवीन्द्रन ने 1500 से अधिक सेल्स सहयोगियों और मैनेजर्स के साथ एक मीटिंग में कंपनी की सेल्स रणनीति में एक महत्वपूर्ण बदलाव की जानकारी दी। यह बदलाव सस्टेनेबल और स्केलेबल मॉडल पर जोर देता है, जो कंपनी के सेल्स वर्कफोर्स को मजबूत बनाने के साथ-साथ क्वालिटी एजुकेशन को पहले से कहीं अधिक आसान बनाने पर केंद्रित है।

यहां देखें कुछ प्रमुख बिंदु:

पुल-आधारित दृष्टिकोण को अपनाना
बायजूस ने अपने सेल्स मॉडल को पुश-आधारित से पुल-आधारित मॉडल में बदल दिया है। यह मॉडल “चूकने के डर” के बजाय “सीखने के प्यार” पर आधारित है। अब मैनेजर्स सेल्स टीम के साथ एक कोच की तरह व्यवहार करेंगे, जो उन्हें अधिक सहायता करने और मजबूत बनाने पर ध्यान देंगे न कि कॉल कोटा को सख्ती से लागू कराने पर केंद्रित होंगे। सेल्स सहयोगियों को अपने तरीके से काम करने का लचीलापन मिलेगा, और उनके द्वारा किए गए कॉल्स की संख्या पर नजर नहीं रखी जाएगी। बायजूस का कहना है कि अगर आप सिर्फ आधे घंटे काम करके भी नतीजे हासिल कर सकते हैं, तो कृपया ऐसा ही करें। यदि सिर्फ वीकेंड पर काम करना चाहते हैं? तो भी कोई दिक्कत नहीं है!” उन्हें केवल परिणाम लाने वाले दृष्टिकोण को ही प्रोत्साहित करना है।

अभूतपूर्व मूल्य कटौती!
शिक्षा को लोकतांत्रिक बनाने के एक साहसिक कदम के रूप में बायजूस ने अपने प्रोडक्ट्स की कीमतों में अभूतपूर्व कमी की है। बायजूस लर्निंग ऐप की सालाना सब्सक्रिप्शन अब 12,000 रुपये (टैक्स सहित) के महत्वपूर्ण वार्षिक मूल्य पर उपलब्ध है, जबकि बायजूस क्लासेज और बायजूस ट्यूशन सेंटर (बीटीसी) की कीमतें क्रमशः 24,000 रुपये और 36,000 रुपये सालभर की क्लासेज के लिए हैं।

सेल्स सहयोगियों के लिए कमाई की बेहतर संभावनाएं
बायजूस ने सेल्स सहयोगियों के लिए भी एक धमाकेदार ऑफर पेश किया है! अब वह जो भी सेल्स करेंगे, उसकी पूरी रकम अगले ही वर्किंग डे पर उनके खाते में आ जाएगी। मैनेजर को उसी बिक्री का 20% कमीशन मिलेगा। कंपनी का कहना है कि औसत सेल्स करने वाले की कमाई 40,000 रुपये प्रति महीना है। तो कुछ ही सेल्स करके वह न सिर्फ अपनी तनख्वाह निकाल सकते हैं बल्कि पिछले बकाया राशि को भी पूरा कर सकते हैं। इस नए तरीके से वह अपनी कुल लागत (सीटीसी) से कई गुना ज्यादा कमा सकते हैं।

बिक्री पर कमीशन की बात करें तो, बकाया राशि चुकाने के बाद सेल्स करने वालों को अब बिक्री का 50% मिलेगा, जबकि मैनेजर्स को 10% कमीशन मिलेगा। बायजूस का कहना है कि ये “चार हफ्ते का प्रयोग” हमेशा के लिए चलने वाला मॉडल बन सकता है। पहले हफ्ते में ही शानदार रिस्पॉन्स मिला है, कुछ सेल्स करने वालों की कमाई सालाना 50 लाख के बराबर हो गई है।

काउंसलिंग करना, न कि बेचना
बायजूस के पास पहले से ही सीखने के लिए बहुत सारे लोग जुड़ चुके हैं, जिनकी गिनती 25 करोड़ को भी पार कर गई है! इसका मतलब साफ़ है कि बायजूस के प्रोडक्ट्स और सर्विसेज को लेकर लोगों में काफी दिलचस्पी है।

कंपनी अपने शिक्षा सलाहकारों को यह सलाह देती है कि वो खुद ही बायजूस के कोर्स देखें और इस्तेमाल करें। इससे उन्हें यह पता चलेगा कि ये कोर्स कितने शानदार हैं और बाकी कोर्स से कहीं बेहतर हैं। बायजूस का कहना है कि “मुझे ये नहीं चाहिए कि आप चीजें बेचें। मैं चाहता हूँ कि आप लोगों को सही सलाह दें। जो छात्र और उनके माता-पिता पहले से ही बायजूस से सीखने के लिए तैयार हैं, उनकी मदद करें। आप सिर्फ बेचने वाले नहीं हैं, बल्कि शिक्षा सलाहकार हैं, जो छात्रों को बेहतर तरीके से सीखने में मदद करते हैं।”

नए मॉडल में मैनेजर्स की भूमिका अब टास्कमास्टर्स की नहीं बल्कि मार्गदर्शक (मेंटर) की होगी। कंपनी कर्मचारियों को ये कह रही है कि अगर मैनेजर उनसे बुरा व्यवहार करते हैं, जबरदस्ती सेल्स करवाते हैं या उनसे रुखे तरीके से बात करते हैं, तो वो सीधे बायजूस को शिकायत करें। इससे सेल्स करने वाली टीमों की सोच में एक बड़ा बदलाव आएगा।

सस्टेनेबल और स्केलेबल ग्रोथ
बायजूस के सीईओ का कहना है कि सेल्स का यह तरीका लंबे समय तक चलने लायक और बढ़ाने लायक है। उन्होंने अपने शिक्षा सलाहकारों को यह सलाह दी है कि वे अपने दोस्तों को भी जोड़ें ताकि वो भी सेल करें और उनके मैनेजर की तरह काम कर सकें। उनका लक्ष्य है कि अगले एक साल में उनकी सेल्स करने वाली टीम 50,000 लोगों की हो जाए, जो दर्शाता है कि बायजूस कितना बड़ा बनना चाहता है और लगातार तरक्की करना चाहता है।

इनोवेशन के लिए हमेशा तैयार
बायजूस कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव (सीईओ) ने अपने सहयोगियों को नई चीज़ें सीखने और तरक्की के लिए सीधे उनके साथ इनोवेटिव आइडियाज़ शेयर करने के लिए कहा है। उन्होंने वादा किया है कि वह हर अच्छे आइडिया को पूरा करने में भरपूर मदद करेंगे। उनका मानना है कि 2024 का बायजूस, 2015 वाले बायजूस जैसा ही है, जब कंपनी ने अपना लर्निंग ऐप लॉन्च किया था और एडटेक की दुनिया में सबसे आगे बनी हुए थी। उन्होंने ये भी कहा कि मौजूदा बायजूस 3.0 लागू होने के बाद कंपनी न सिर्फ लीडर बनी रहेगी बल्कि आने वाले सालों में और भी मजबूत होगी।

bulandmedia

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button