Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
अपराध
Trending

Kanjhawala Death Case : कंझावला केस में 1 बड़ा खुलासा !

दिल्ली के सुल्तानपुरी में 20 साल की एक लड़की को कार में 11 किलोमीटर तक घसीट कर ले जाने की घटना से लोगों में भारी गुस्सा है

PUBLISHED BY – LISHA DHIGE

Kanjhawala Death Case : दिल्ली के सुल्तानपुरी में 20 साल की एक लड़की को कार में 11 किलोमीटर तक घसीट कर ले जाने की घटना से लोगों में भारी गुस्सा है. जहां तक ​​पुलिस की बात है तो इसकी गूंज गृह मंत्रालय तक पहुंच गई। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में और जानकारी जारी की है।

पुलिस के मुताबिक, जब हमने मृतका का रूट ट्रेस किया तो पता चला कि वह अपने काफिले में अकेली नहीं थी। हादसे के वक्त उसके साथ एक लड़की भी थी। वह घायल हो गई और मौके से भाग गई, लेकिन मृतक का पैर कार में फंस गया, जिसके पीछे उसे घसीटा जा रहा था।

पुलिस ने कहा कि दूसरी लड़की दुर्घटना के बाद अपने घर लौट आई और पीड़िता कार के नीचे फंसी रही, जो उसे सुल्तानपुरी से कंझावला तक 12 किमी तक घसीटती रही। दिल्ली पुलिस ने मामले में पीड़िता के दोस्त का बयान दर्ज किया है।

यह भी देखें : Rishabh Pant Accident: तस्वीरों में देखें ऋषभ पंत के साथ हुआ वो 1 दर्दनाक हादसा

https://bulandchhattisgarh.com/9835/rishabh-pant-accident/

युवती से दरिंदगी पर उबाल, शाह ने पुलिस से मांगी रिपोर्ट

Kanjhawala Death Case
Kanjhawala Death Case

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार सुबह खुद पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा से घटना की जानकारी ली और जल्द विस्तृत जांच रिपोर्ट पेश करने को कहा. गृह सचिव के निर्देश पर संजय अरोड़ा ने वरिष्ठता के अनुसार आर्थिक अपराध शाखा की विशेष आयुक्त शालिनी सिंह को गृह मंत्रालय के लिए जांच रिपोर्ट तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी है. उनके नेतृत्व में दिल्ली पुलिस के अधिकारियों की एक टीम ने जांच शुरू की।

घटना को लेकर पुलिस मुख्यालय में आला अधिकारियों की बैठक दिन भर चलती रही। उधर, आक्रोशित लोगों और लड़की के परिजनों ने सुल्तानपुरी थाने के बाहर धरना दिया और आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की. गृह मंत्री शाह के दखल के बाद राज्यपाल वीके सक्सेना ने भी पुलिस आयुक्त के साथ बैठक कर जांच की समीक्षा की.

सख्त कार्रवाई का निर्देश ( Kanjhawala Death Case )

उन्होंने कहा कि हर पहलू की गंभीरता से जांच की जाए और गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ सख्त धाराओं में कार्रवाई की जाए। एलजी लगातार जांच की निगरानी कर रहे हैं।Kanjhawala Death Case एलजी ने पुलिस आयुक्त को आर्थिक स्थिति, तथाकथित राजनीतिक पहुंच या अभियुक्तों के प्रभाव के बावजूद कानून के तहत सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने पुलिस की लापरवाही पर भी रिपोर्ट मांगी और कहा कि लापरवाही का दोषी पाए जाने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। उपराज्यपाल ने पुलिस आयुक्त से पीड़िता के परिवार के किसी योग्य सदस्य को सरकारी नौकरी देने की संभावना तलाशने को भी कहा।

जरूर पढ़े :MURDER CASE : शौर्य के मर्डर की पूरी कहानी, सुनकर रूह कांप उठेगी !

https://bulandmedia.com/4919/murder-case-the-soul-will-tremble-after-hearing-the-full-story-of-shauryas-murder/

लड़की के साथ हुई बर्बरता

हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही स्थिति स्पष्ट होगी। शव गृह में मौजूद पीड़िता के जानकार डा भूपेंद्र चौरसिया ने बताया कि यह एक बर्बर तरीके से की गई हत्या है।Kanjhawala Death Case शुरुआत में जिला पुलिस की ओर से मामले की हल्के में लेकर जांच की गई। पुलिस कही कहानी में अभी भी कई झोल है, जिनके कुछ जवाब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मिलने की उम्मीद है।

शव की 23 तस्वीरें पुलिस ने फोरेंसिक टीम से की साझा

शव की 23 तस्वीरें पुलिस के पास हैं। इन तस्वीरों को पुलिस ने फोरेंसिक टीम से साझा किया है। सूत्रों ने बताया कि शव के पिछले हिस्से में सबसे ज्यादा जख्म हैं।Kanjhawala Death Case यह तस्वीरें काफी वीभत्स हैं। तस्वीरों में सिर फटा हुआ दिख रहा है, घसीटने की वजह से शव का पिछला हिस्सा बुरी तरह जख्मी दिखाई दे रहा है। हाथ और पैर पूरी तरह फट चुके दिख रहे हैं। इन तस्वीरों को शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों की टीम को भी दिखाई गई हैं।

इनकी है कार

पुलिस सूत्रों ने बताया कि कार बुध विहार के लोकेश के नाम पर रजिस्टर्ड है। पुलिस जब लोकेश के पास पहुंची तो पता चला कि उसने अपनी कार रोहिणी सेक्टर एक निवासी अपने साले आशुतोष को दी थी.Kanjhawala Death Case पुलिस ने जब आशुतोष से पूछताछ की तो पता चला कि आशुतोष ने ही उक्त कार दीपक खन्ना को दी थी. और अमित खन्ना 31 दिसंबर को शाम सात बजे।

सुबह पांच बजे खड़ी की कार

जांच में पता चला कि आरोपितों ने एक जनवरी की सुबह पांच बजे आपात स्थिति में आशुतोष के घर के बाहर कार खड़ी की थी।Kanjhawala Death Case आरोपी अमित और दीपक ने आशुतोष को बताया कि उन्होंने स्कूटर सवार एक लड़की को टक्कर मारी है। दोनों ने यह भी कहा कि हादसे के वक्त वे शराब के नशे में थे। अब बड़ा सवाल यह है कि आशुतोष ने तुरंत घटना की सूचना पुलिस को क्यों नहीं दी?

FIR में क्या लिखा?

प्राथमिकी में कहा गया है कि चार आरोपियों में से दो दीपक खन्ना और अमित खन्ना ने 31 दिसंबर 2022 को शाम करीब सात बजे एक दोस्त से कार उधार ली थी।Kanjhawala Death Case 1 जनवरी, 2023 को सुबह करीब 5:00 बजे उसने कार वापस मेरे घर पर खड़ी की। दीपक और अमित ने खुलासा किया कि उन्होंने स्कूटर सवार एक लड़की को टक्कर मारी और दुर्घटनास्थल से कंझावला भाग गए। उसने कहा कि वह नशे में था।

bulandmedia

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button