Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
छत्तीसगढ़
Trending

रायपुर में हनुमान जयंती की धूम, मंदिरों में उमड़े हनुमान भक्‍त

रायपुर। चैत्र पूर्णिमा पर चित्रा नक्षत्र एवं सर्वार्थसिद्धि समेत अन्य योगों के संयोग में हनुमान जयंती श्रद्धा उल्लास से मनाई जाएगी। इस साल हनुमान जयंती इसलिए खास है कि यह मंगलवार के दिन पड़ रही है। मंगलवार को ही चित्रा नक्षत्र, सर्वार्थसिद्धि योग में हनुमान का जन्म हुआ था। तीन ऐतिहासिक हनुमान मंदिरों के अलावा गली-मोहल्लों के 50 से अधिक मंदिरों में ब्रह्म मुहूर्त से लेकर रात तक भक्तिभाव छाया रहेगा। रायपुर में हनुमान जयंती की धूम, मंदिरों में उमड़े हनुमान भक्‍त, शोभायात्रा में झांकियां होंगी आकर्षण का केंद्र करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश अध्यक्ष तथा खारुन गंगा महाआरती जनसेवा समिति के प्रमुख वीरेंद्र सिंह तोमर के नेतृत्व में बनारस की तर्ज पर महादेव घाट में महाआरती की जाएगी। प्रत्येक पूर्णिमा को होने वाली यह 18वीं महाआरती होगी।

मंदिरों में गूंजेगी हनुमान चालीसा की चौपाइयां

सभी मंदिरों में सुबह प्रतिमा पर चोला श्रृंगार, पूजन, महाआरती की जाएगी। अनेक मंदिरों में महाभंडारा का आयोजन किया जाएगा। गाजे, बाजे और झांकियों के साथ शोभायात्रा निकाली जाएगी। मंदिरों में सुंदरकांड और हनुमान चालीसा की चौपाइयां गूंजेगी।

समता कालोनी में सवामनी भोग

समता कालोनी में श्री राधाकृष्ण सेवा समिति के अध्यक्ष घनश्याम पोद्दार, प्रचार प्रभारी सत्येंद्र अग्रवाल ने बताया कि 23 अप्रैल को मंदिर के स्थापना दिवस की रजत जयंती एवं हनुमान जयंती पर सुबह 10 बजे बजरंगबली का दुग्धाभिषेक, हनुमानजी की झांकी आकर्षण का केंद्र होगी। दोपहर को सवामनी का भोग एक बजे से प्रसादी वितरण किया जाएगा। मां महामाया मंदिर के सामने समाजसेवी लक्ष्मीनारायण लाहोटी के निवास पर 17 किलो पीतल की हनुमान प्रतिमा का श्रृंगार, पूजा-अर्चना करके भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी। मित्र मंडल ग्रुप के संयोजक लक्ष्मीनारायण लाहोटी, कृष्णा लाहोटी के सान्निध्य में अभिजीत मुहूर्त 11 बजकर 26 मिनट पर महाआरती के साथ भोग लगाएंगे। 12 बजे से महाभंडारा शुरू होगा। भजन गायक कराओके सिस्टम से भजनों की प्रस्तुति देंगे। निश्शुल्क स्वास्थ्य शिविर में डा. मनोज लाहोटी स्वास्थ्य जांच करेंगे। रेलवे स्टेशन परिसर स्थित सर्वधर्म सद्भावना हनुमान मंदिर के राजकुमार राठी ने बताया कि सुबह प्रतिमा का श्रृंगार करके दोपहर 12 बजे महाआरती की जाएगी। इसके पश्चात दोपहर एक बजे से महाभंडारे का आयोजन किया गया है। राठौर चौक स्थित मनोकामना सिद्ध हनुमान मंदिर में सुबह पांच बजे दुग्धाभिषेक, श्रृंगार किया जाएगा। शरद राठौर ने बताया कि शाम छह बजे महाआरती होगी। हरिसत्संग मंडल राजनांदगांव के गायक भजनों की प्रस्तुति देंगे। मंदिर में प्रत्येक मंगलवार, शनिवार को चोला चढ़ाने की परंपरा चल रही है।

पुरानी बस्ती में बावली से निकली थीं तीन प्रतिमाएं

पुरानी बस्ती में जैतूसाव मठ के समीप स्थित बावली की सफाई के दौरान 500 साल पहले हनुमानजी की तीन प्रतिमाएं प्राप्त हुई थीं। इनमें से एक प्रतिमा बावली के समीप ही स्थापित की गई। दूसरी प्रतिमा दूधाधारी मठ में स्थापित की गई और तीसरी मच्छी तालाब के बगल में स्थापित की गई। तीनों मंदिरों में हनुमान जयंती वाले दिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु उमड़ेंगे। बावली वाले हनुमान मंदिर में प्रतिमा का मुख पूर्व दिशा की ओर है, वहीं गुढ़ियारी में हनुमान की प्रतिमा दक्षिणमुखी है। तीसरी प्रतिमा ऐतिहासिक दूधाधारी मठ में श्रीराघवेंद्र सरकार श्रीराम के सामने स्थापित हैं। यह प्रतिमा भी दक्षिणमुखी है। तात्यापारा स्थित हनुमान मंदिर मंदिर समिति के अध्यक्ष चंद्रकांत मोहदीवाले ने बताया कि सुबह पांच बजे से अभिषेक, श्रृंगार किया जाएगा। पं. शशांक देशपांडे भजनों की प्रस्तुति देंगे। छह बजे हनुमान जन्मोत्सव मनाया जाएगा। प्रत्येक मंगलवार को शाम को होने वाला सुंदरकांड पाठ जन्मोत्सव के चलते दोपहर दो बजे से होगा। रुचिर कुलकर्णी व सुषुम्ना सावरगांवकर के सान्निध्य में पाठ होगा। महाराष्ट्र मंडल की कार्यकारिणी सदस्य नमिता शेष ने बताया कि शाम सात बजे रामरक्षा स्तोत्र, हनुमान चालीसा का सामूहिक पाठ के पश्चात महाआरती होगी।

bulandmedia

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button