Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
छत्तीसगढ़
Trending

समाज के सहयोग से उत्तरदायित्व का निर्वहन करने में सफल रहूंगा : विष्णुदेव साय

रायपुर । मुख्यमंत्री विष्णु देव साय रविवार को जिला मुख्यालय दुर्ग के सिविल लाइन स्थित कचना धुरवा देवालय परिसर में केंद्रीय गोंड़ महासभा धमधागढ़ द्वारा आयोजित मंत्री एवं विधायकों के सम्मान तथा अमर शहीद वीर नारायण सिंह के बलिदान दिवस समारोह में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री साय का समारोह में गोंड़ समाज द्वारा गौर सिंग मणित मुकुट पहनाकर और धनुष बाण भेंट कर पारम्परिक ढ़ंग से सम्मान किया गया। समाज द्वारा मुख्यमंत्री जी को मोतीचूर के लड्डुओं से भी तौला गया। कार्यक्रम में खाद्य मंत्री दयाल दास बघेल एवं विधायक डोमन लाल कोरसेवाड़ा, गजेंद्र यादव एवं ललित चंद्राकर तथा केंद्रीय गोंड़ महासभा धमधगढ़ के अध्यक्ष एम.डी. ठाकुर सहित अन्य पदाधिकारी और समाज के लोग बड़ी संख्या में मौजूद थे।

मुख्यमंत्री साय ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह सम्मान आप सभी का सम्मान है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेशवासियों की सेवा के लिए जिस विश्वास के साथ मुझे जिम्मेदारी सौंपी है, मुझे उम्मीद है कि मैं समाज के सहयोग से इस उत्तरदायित्व का निर्वहन करने में सफल रहूंगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी जी की गारंटी को पूरा करने की शुरूआत कर दी है। इसी कड़ी में प्रदेश के गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 18 लाख प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत करने का निर्णय लिया गया है। सुशासन दिवस के अवसर पर किसानों को विगत वर्ष 2014-15 एवं 2015-16 के धान के बकाया बोनस राशि के रूप में 3716 करोड़ रूपए किसानों के खाते में अंतरण किया गया है। वन क्षेत्रों में रहने वाले तेंदूपत्ता संग्राहकों से प्रति मानक बोरा 5 हजार 500 रूपए में तेन्दूपत्ता की खरीदी की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मोदी जी की गांरटी के मुताबिक प्रदेश सरकार महतारी वंदन योजना के तहत अगले माह से पात्र विवाहित महिलाओं को प्रतिमाह 1 हजार रूपए देने जा रही है। मुख्यमंत्री साय ने कहा कि प्रधानमंत्री जी द्वारा जनआस्था के अनुरूप विगत 22 जनवरी को अयोध्या में 5 सौ वर्षों उपरांत प्रभु रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की गई है। प्रदेशवासियों की आस्था को ध्यान में रखते हुए सरकार शीघ्र ही रामलला दर्शन योजना लागू करने जा रही है। मुख्यमंत्री साय ने गोंड़ समाज के पदाधिकारियों की मांग पर गोंड़वाना भवन दुर्ग में अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए 50 लाख रूपए और दुर्ग नगर के राजेंद्र पार्क चौक में आदिवासियों के लोक नायक बिरसा मुंडा की प्रतिमा लगाने के लिए 25 लाख रूपए की घोषणा की। मोदी जी के गारंटी में किसानों से 21 क्विंटल प्रति एकड़ के तथा 3100 रूपए प्रति क्विंटल के मान से धान की खरीदी का वादा किया गया है। वर्तमान में किसानों को समर्थन मूल्य का भुगतान किया गया है। अंतर की राशि के भुगतान के लिए मुख्य बजट में 10 हजार करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। किसानों को अंतर की राशि का भुगतान जल्द ही किया जाएगा।

गौरतलब है कि बिरसा मुंडा एक महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानी और समाज सुधारक थे। वह झारखंड के बांगा गांव में जन्मे थे। उनकी शौर्यगाथाएं भारतीय इतिहास में अमिट चिह्न के रूप में अंकित हैं। उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी और आदिवासी समुदायों के अधिकारों की रक्षा की। आदिवासी संगठनों की स्थापना की और लोगों को जागरूक करने का काम किया। बिरसा मुंडा का जीवन हम सबके लिए प्रेरणास्रोत है, जो हमें दिखाता है कि एक संघर्षशील व्यक्ति किसी भी असंभव चुनौती का मुकाबला कर सकता है। वे हमेशा याद रखे जाएंगे, उनका जन्म गोंड़ आदिवासी परिवार में हुआ था। बिरसा मुंडा ने अंग्रेजों की तानाशाही और उत्पीड़न से लोगों को मुक्त कराने के लिए संघर्ष किया। उनके प्रेरणादायी विचार और क्रांतिकारी कार्य आज भी हमारे लिए मार्गदर्शन का कार्य कर रहे हैं।

समारोह में शामिल होने के पूर्व मुख्यमंत्री साय ने सिविल लाईन चौक पर गोंड़वाना वीरांगना महारानी दुर्गावती की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। कार्यक्रम स्थल पर काली मंदिर में मां काली की पूजा-अर्चना कर प्रदेश वासियों की खुशहाली के लिए आर्शीवाद लिया।

bulandmedia

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button